लखनऊ। पत्नी को विदा कराने ससुराल पहुंचे पति का ससुर के साथ जमकर विवाद हो गया.  विवाद इतना बढ़ गया कि दामाद ने ससुर पर तलवार से हमला कर दिया. चीख-पुकार के बाद दौड़ी सास, पत्नी और दो साली के साथ ही नाती को भी आरोपी ने हमला कर घायल कर दिया.

शोर सुनकर पहुंचे ग्रामीणों ने आरोपी दामाद को पेड़ से बांधकर पीटा और फिर पुलिस को सौंप दिया. हालांकि पुलिस ने घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया है.

अयोध्या जिले के कुमारगंज थाना क्षेत्र के जगन्नाथपुर मजरे बिरौलीझाम निवासी मुकेश प्रजापति पुत्र रामनाथ की शादी चार साल पहले कूरेभार थाना क्षेत्र के पूरे चतुर पुरवा गांव निवासी मिठाईलाल प्रजापति की बेटी अनीता से हुई थी. शादी के बाद से ही अनीता अपने मायके आ गई और वापस ससुराल नहीं गई.

शनिवार की सुबह मुकेश प्रजापति अपनी ससुराल पूरे चतुर पुरवा गांव पहुंचा और ससुर मिठाईलाल से पत्नी को विदा करने को कहा. मिठाईलाल ने बेटी को विदा करने से साफ़ मना कर दिया. जिसके बाद गुस्साए दामाद ने तलवार से ससुर पर हलमा कर दिया. मिठाईलाल की चीख सुनकर मुकेश की पत्नी अनीता, साली मनीषा, ज्ञानमती, सास दुर्गावती और नाती पंकज भागकर वहां पहुंचे तो आरोपी ने उन्हें भी तलवार से मारकर घायल कर दिया.

अनीता के हाथ की तीन अंगुलियां कट गईं, वहीं मनीषा की हालत नाजुक

तलवार के हमले से अनीता के हाथ की तीन अंगुलियां कट गईं, जबकि मनीषा गंभीर रूप से घायल हो गई. शोर सुनकर गांव के लोग मौके पर पहुंच गए और मुकेश को पकड़ लिया. ग्रामीणों ने मुकेश को पेड़ में बांधकर जमकर पीटा. इससे वह भी घायल हो गया.

ग्रामीणों की सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने घायलों को सीएचसी कूरेभार पहुंचाया. सीओ बल्दीराय विजयमल यादव और एसओ कूरेभार मनबोध तिवारी भी मौके पर पहुंचे और घटना के बारे में लोगों से जानकारी ली.

सीओ ने बताया कि मुकेश की पत्नी की विदाई ससुरालीजन नहीं कर रहे थे इससे वह नाराज चल रहा था. जिसकी वजह से उसने ये खतरनाक कदम उठाया.