वाराणसी देव दीपावली व गुरुनानक जयंती के अवसर पर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे हैं. हर साल हिंदू कैलेंडर के कार्तिक महीने की पूर्णिमा को देव दीपावली मनाई जाती है. इस साल देव दीपावली गंगा नदी के दोनों किनारों पर लाखों दीप जलाकर मनाई गयी है.पीएम मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र में 50 किलोमीटर का रास्ता हवाई मार्ग से और 40 किलोमीटर सड़क मार्ग से तय किया.

जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी पिछली बार फरवरी में वाराणसी आए थे. हालांकि लॉकडाउन के बाद से वह पहली बार वाराणसी आए हैं. पीएम मोदी वाराणसी का यह 23वां दौरा है. चेत सिंह घाट पर जहां लेजर शो के जरिए देव दीपावली की अहमियत समझाई गई तो वहीं विश्वनाथ कॉरिडोर का निरीक्षण करने के बाद राजघाट पर पहला दीया जलाकर देव दीपावली की पारंपरिक शुरुआत की गई है.

 

कोरोना महामारी के दौरान पीएम मोदी पहली बार बनारस दौरे पर हैं. हालांकि वे पहले वर्चुअली तरीके से कई मौकों पर जुड़कर कार्यक्रमों में हिस्सा ले चुके हैं. प्रधानमंत्री के दौरे के लिए बनारस शहर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. सुरक्षा बलों की भारी तैनाती के अलावा, ड्रोन कैमरों का भी इस्तेमाल किया गया है. स्थानीय लोगों द्वारा ड्रोन कैमरों के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

बता दें कड़ी सुरक्षा के बीच पीएम मोदी काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचे और मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद पीएम कॉरिडोर प्रोजेक्ट का जायजा लिया. इतना ही नहीं इसके साथ ही दीप दान किया.

थिरकते नजर आये मोदी

देव दीपावली की ये तैयारी देख आम आदमी तो मंत्रमुग्ध था ही , तो वही पीएम मोदी भी अलग अंदाज में दिखे अपने आप को थिरकने से रोक नहीं पाए जिसका वीडियो भी उन्होने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किया कैप्शन में लिखा ‘हर हर महा देव’

यह भी पढ़े:ओवैसी के इलाके में दहाड़े योगी बोले- हैदराबाद का नाम होगा भाग्यनगर,

पीएम के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले BSF के पूर्व जवान को सुप्रीम कोर्ट से झटका, मोदी के खिलाफ की थी याचिका