लखनऊ।  कोरोना महामारी से पूरा देश ग्रसित है. ऐसे में यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संक्रमित बुजुर्ग,सांस रोगी, गर्भवती महिलाएं और छोटे बच्चे अब होम आइसोलेशन में नहीं रखे जाएंगे. सीएम योगी ने मंगलवार को यह आदेश दिया है.

इतना ही नहीं सीएम योगी ने लखनऊ और मेरठ में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए विशेष ध्यान देने को भी कहा है. वह अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बचाव व इलाज के संबंध में प्रभावी व्यवस्था लगातार बनाई रखी जाए. बचाव के लिए लोगों को जागरूक किया जाए. इसके लिए विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ प्रमुख चौराहों, बाजारों और अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से लोगों जानकारी दी जाए. सीएम योगी ने मास्क के अनिवार्य उपयोग के लिए कार्यवाही तेज किए जाने के भी निर्देश दिए हैं.

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, मुख्य सचिव आरके तिवारी और कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद,  अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ. रजनीश दुबे और अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी भी मौजूद थे.

कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड चेन की व्यवस्था तेज

मुख्यमंत्री ने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और सर्विलांस की व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए. सभी जिलों में 15 दिसंबर तक कोविड-19 वैक्सीन की कोल्ड चेन के लिए अवस्थापना संबंधी कार्य पूरे कर लिए जाएंगे.